जानिए वो कौन हैं,शपथ ग्रहण के दौरान मोदी के बाद इस मंत्री के लिए बजीं सबसे ज्यादा तालियां

जानिए कौन है प्रताप चंद्र सारंगी :गुरवार शाम जब नरेंद्र मोदी सरकार के 57 मंत्रियो ने शपथ ली तब एक शख्स ऐसे भी थे जिनके मंच पर आते ही तालियों की गड़गड़हाट तेज़ हो गई यह और कोई नहीं यह है प्रताप चंद्र सारंगी जो ओडिशा के बालासोर से पहली बार सांसद चुने गये है इन्हे मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में राज्य मन्त्री की शपथ दिलाई गई है  इनकी सादकी का हर कोई कायल है इन्हे ओडिशा का मोदी भी कहा जाता है 1


 प्रताप चंद्र सारंगी शपथ लेते हुए
प्रताप चंद्र सारंगी शपथ लेते हुए



प्रताप चंद्र सारंगी :साधारण व्यक्तित्व वाले ,साइकिल पर चलने वाले ,फूस के घर में रहने वाले समाज सेवा में हमेशा तत्पर गरीबो के मदद के लिए हमेशा आगे रहने वाले अपनी पेंशन भी गरीबो में बाट देने वाले ऐसे है प्रताप चंद्र सारंगी हमेशा कुर्ता पजामा पहने हुआ, हवाई चप्पल पहने हुए  कन्धे पर झोला लिए हुए किसी रेलवे स्टेशन पर ट्रेन का इंतज़ार करते हुए भुवनेश्वर की गलियों में दिख जाते है 1

Election 2019 से सम्बंधित खबरे पढ़े:

सारंगी का जन्म निलिगिरि से सटे गोपीनाथपुर गांव के एक गरीब परिवार में 4 जनवरी 1955 को हुआ था 1  28 साल की उम्र में वह  अध्यात्म की और जाना चाहते था और रामकृष्ण मठ से जुड़ना चाहते थे लेकिन अपनी  माँ के उनके ऊपर आश्रित होने की वजह से वह मठ से नही जुड पाये और अपनी माँ के निधन तक उनके साथ ही रहे 1


 प्रताप चंद्र सारंगी का घर
प्रताप चंद्र सारंगी का घर

राजनेतिक सफर :प्रताप चंद्र सारंगी दो बार नीलगिरि क्षेत्र से विधायक रहे उनके रहन सहन एकदम साधारण था भुवनेश्वर के एमलए क्वार्टर में साधारण तरीके से ही रहते थे लम्बे समय तक आरएसएस और बजरंग दल से जुड़े रहे उनके चुनाव में प्रचार करने का तरीका भी सबसे अलग था जहाँ दूसरे प्रत्याशी एसयूवी मैं घूमते थे वही प्रताप चंद्र सारंगी ऑटो रिक्शा से अपना प्रचार करते थे इस बार का चुनाव उनके लिए आसान नहीं था क्योंकि चुनाव मैदान मैं उनका मुक़ाबला कांग्रेस अध्यक्ष निरंजन पटनायक के बेटे नवज्योति पटनायक से थी तो दूसरी तरफ बीजेडी  के रविंदर जेना थे  प्रताप चंद्र सारंगी 12 हज़ार वोटो से चुनाव जीत गए 


No comments